June 17, 2019

लॉर्ड चेम्सफोर्ड | मोंटेग चेम्सफोर्ड अधिनियम – 1919

लॉर्ड चेम्सफोर्ड | मोंटेग चेम्सफोर्ड अधिनियम – 1919

लॉर्ड चेम्सफोर्ड (1916 से 1921 ईस्वी) :

इसके समय मोंटेग्यू चेम्सफोर्ड अधिनियम – 1919 पारित किया गया जिसके अनुसार, प्रांतों में द्वैध शासन की स्थापना हुई । 1916 ईस्वी के लखनऊ अधिवेशन में नरमपंथी एवं उग्रपंथी का मिलन हुआ । 13 अप्रैल 1919 ईस्वी को जलियांवाला बाग हत्याकांड हुआ जिसमें सैकड़ों व्यक्ति मारे गए ।

लॉर्ड चेम्सफोर्ड के समय में ही खिलाफत आंदोलन तथा असहयोग आंदोलन प्रारंभ हुआ । 1917 ईस्वी में शिक्षा पर “सैडलर समिति की नियुक्ति की गई थी । इसी के समय तृतीय अफगान युद्ध हुआ था ।

लॉर्ड रीडिंग (1921 से 1926 ईस्वी) :  

लॉर्ड रीडिंग ब्रिटिश भारत का पहला और एकमात्र यहूदी वायसराय था । इसके समय में 1921 ईस्वी में प्रिंस ऑफ वेल्स का भारत आगमन हुआ । लॉर्ड रीडिंग के समय ही 1921 ईस्वी में ऍम एन राय द्वारा भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की स्थापना की गई थी । 1925 ईस्वी में के बी हेडगेवार द्वारा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना की गई । 1922 ईस्वी में सी आर दास और मोतीलाल नेहरू द्वारा स्वराज पार्टी की स्थापना की गई थी । लॉर्ड रीडिंग के समय 1921 में केरल में मोपला विद्रोह हुआ था ।

लॉर्ड इरविन (1926 से 1931 ईस्वी) :

1927 ईस्वी में साइमन कमीशन का गठन किया गया था । अंग्रेजों की चुनौती स्वीकार करते हुए अगस्त 1928 ईस्वी में मोतीलाल नेहरू द्वारा नेहरू रिपोर्ट तैयार की गई थी । 1929 ईस्वी के कांग्रेस के लाहौर अधिवेशन में पूर्ण स्वराज्य का संकल्प पारित किया गया था । इसी अधिवेशन में 26 जनवरी 1930 ईस्वी को प्रथम स्वतंत्रता दिवस मनाने की भी घोषणा की गई थी ।

महात्मा गांधी द्वारा 12 मार्च 1930 ईस्वी को दांडी यात्रा द्वारा सविनय अवज्ञा आंदोलन प्रारंभ किया गया था । 12 नवंबर 1930 ईस्वी को लंदन में प्रथम गोलमेज सम्मेलन का आयोजन किया गया । इस सम्मेलन में कांग्रेस ने भाग नहीं लिया था ।

लॉर्ड वेलिंग्टन (1931 से 1934 ईस्वी) :

16 अगस्त 1932 ईस्वी को रैम्जे मैक्डोनाल्ड द्वारा सांप्रदायिक  पंचाट (Communal Panchat) की घोषणा की गई जिसके अनुसार दलितों को हिंदुओं से अलग प्रतिनिधित्व एवं अलग निर्वाचन मंडल का प्रावधान किया गया था । लार्ड वेलिंगटन के समय में ही भारत सरकार अधिनियम 1935 पारित किया गया ।

इसी के समय में सितंबर 1931 ईस्वी में लंदन में द्वितीय गोलमेज सम्मेलन का आयोजन हुआ । इसमें कांग्रेस की ओर से महात्मा गांधी भाग लिए । 1932 ईस्वी में लंदन में तृतीय गोलमेज सम्मेलन का आयोजन हुआ । कांग्रेस इस सम्मेलन में भाग नहीं ली थी । 1934 ईस्वी में आचार्य नरेंद्र देव और जयप्रकाश नारायण द्वारा कांग्रेस समाजवादी दल की स्थापना की गई थी ।

 

लॉर्ड लिनलिथगो (1934 से 1937 ईस्वी) :

लॉर्ड लिनलिथगो द्वारा 1940 ईस्वी में अगस्त प्रस्ताव पेश किया गया था । 1942 ईस्वी में क्रिप्स मिशन का भारत आगमन हुआ और भारत को डोमिनियन स्टेटस का प्रस्ताव दिया गया था जिसे महात्मा गांधी ने पोस्ट डेटेड चेक कह कर अस्वीकार कर दिया था । 1 मई 1939 ईस्वी को सुभाष चंद्र बोस द्वारा फॉरवर्ड ब्लॉक की स्थापना की गई थी ।

1940 ईस्वी में मुस्लिम लीग ने लाहौर संकल्प पारित किया जिसमें मोहम्मद जिन्ना ने पहली बार पाकिस्तान के रूप में एक अलग देश की मांग की । 8 अगस्त 1942 ईस्वी को कांग्रेस द्वारा भारत छोड़ो प्रस्ताव पारित किया गया था ।

लॉर्ड वेवल (1945 से 1947 ईस्वी) :

लॉर्ड वेवल के समय में 1945 ईस्वी में शिमला समझौता और 1946 ईस्वी में नौसैनिक विद्रोह हुए । 1946 ईस्वी में कैबिनेट मिशन का भारत आगमन हुआ जिसके सदस्य थे – पैथिक लारेंस, स्टैफोर्ड क्रिप्स और ए बी अलेक्जेंडर । सितम्बर 1946 ईस्वी को कांग्रेस द्वाराअंतरिम सरकार का गठन किया गया ।

17 अगस्त 1946 ईस्वी को मुस्लिम लीग ने  सीधी कार्यवाही दिवस मनाया जिसमें हजारों लोग मारे गए थे । 20 फरवरी 1947 ईस्वी को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री लार्ड क्लीमेंट एटली ने भारतीयों को स्वतंत्रता प्रदान करने की घोषणा की ।

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply